*BREAKING:*2017-18 और 2018 की रिक्तियों के एवज में वरिष्ठ अनुवादकों की पदोन्नति के लिए एपीएआर और शास्तियों के साथ सतर्कता निकासी प्रमाणपत्र भेजना भी ज़रुरी *दिसम्बर,2018 में विभागीय पदोन्नति समिति की एक और बैठक के प्रयास ज़ोरों पर *उप-निदेशक(राजभाषा) के तौर पर पदोन्नति हेतु संयुक्त सेवावधि के प्रावधान को बहाल करने के लिए भर्ती नियमों में आशोधन की फाइल डीओपीटी को भेजे जाने की ख़बर *कनिष्ठ अनुवादकों की पदोन्नति के आदेश जारी करने की प्रक्रिया अंतिम चरण में *एसोसिएशन ने कनिष्ठ अनुवादकों के लिए 4600/-रु. के ग्रेड-पे की मांग को लेकर अदालत जाने का निर्णय लिया;सभी संबंधितों से संगत दस्तावेज़ उपलब्ध कराने का आग्रह।

Wednesday, 8 January 2014

वरिष्ठ अनुवादकों के लिए ओपन पास मंज़ूर

संवर्ग के लिए यह अत्यन्त प्रसन्नता का विषय है कि गृह मंत्रालय ने वरिष्ठ अनुवादकों के लिए ओपन पास को मंज़ूरी दे दी है। मित्रो,अनुवादकों को ओपन पास दिए जाने के संबंध में कुछ साथियों ने पिछली आमसभा की बैठक में भी ध्यानाकर्षण किया था जिसके एवज में हमने आश्वासन दिया था कि तमाम अन्य महत्वपूर्ण मुद्दों के होते हुए भी,एसोसिएशन के लिए ओपन पास का मुद्दा प्रतिष्ठा का विषय बना हुआ है और हम इसके लिए हरसंभव प्रयास करेंगे। उक्त आश्वासन के अनुसरण में एसोसिएशन ने राजभाषा विभाग को इस बारे में अभ्यावेदन दिया था तथा एशोसिएशन ने विभाग पर इस मुद्दे को लेकर लगातार दबाव बनाए रखा। हमने पिछले दिनों आपको यह भी सूचित किया था कि अनुभाग अधिकारी(सेवा) ने इस बारे मे अधिकतम सहयोग करने का वायदा किया था।

गौरतलब है जहां एक तरफ युवा कर्मचारियों में यलो पास के प्रदर्शन की प्रवृत्ति हाल के दिनों में काफी बढ़ी हुई थी,वहीं हमारे अनुवादक साथियों को एक भवन से दूसरे में प्रवेश के लिए पास बनवाने की अनावश्यक प्रक्रिया से गुजरना पड़ता था जिससे खासकर वरिष्ठ अनुवादकों में भारी निराशा का भाव था। अब वरिष्ठ अनुवादकों के लिए ओपन पास स्वीकृत किए जाने से, काफी समय से लंबित माग पूरी होने जा रही है। फिलहाल यह पास सिर्फ वरिष्ठ अनुवादकों के लिए जारी किया जा रहा है,यद्यपि हमने इसे कनिष्ठ अनुवादकों को भी देने की मांग रखी थी। किंतु,यह देखते हुए कि सहायकों के समतुल्य कई अन्य पदों को अभी तक ओपन पास नहीं दिया गया है,वरिष्ठ अनुवादकों के लिए इसे जारी किया जाना भी एक बड़ी सफलता है। यह जीत भविष्य में पास के मामले में किसी भी भेदभाव की स्थिति में हमारे लिए पुख्ता आधार प्रदान करेगी।

गृह मंत्रालय से इस संबंध में एकाध दिनों में आदेश अपेक्षित है। सभी संबंधित अनुवादक कृपया अपने-अपने विभागों में इस आदेश के प्राप्त होने के प्रति सजग रहें ताकि आदेश प्राप्त होते ही,ब्लू पास प्रत्यर्पित कर ओपन पास के लिए आवेदन कर सकें।

फिलहाल,सभी अनुवादक साथियों को अग्रिम बधाई।

हम अन्य मुद्दों पर भी अद्यतन स्थिति से आपको शीघ्र अवगत कराएंगे तथा आमसभा की वार्षिक बैठक भी जल्दी ही बुलाई जाएगी।

नववर्ष की शुभकामनाएं भी स्वीकार करें।

अद्यतनःगृह मंत्रालय द्वारा जारी ज्ञापन की प्रति संदर्भ हेतु संलग्न है। अनुवादक इसे यहां से डाउनलोड करके भी अपने प्रशासन में ओपन पास के लिए आवेदन दे सकते हैं।

2 comments:

  1. जहां पर कनिष्‍ठ अनुवादक का पद ही है उन के लिए यह व्‍यवस्‍था कोई नहीं हर जगह भेदभाव क्‍यों

    डा विजय शर्मा

    ReplyDelete
  2. ओपन पास से संबंधित भेदभाव को गंभीरता से लेकर इस मामले पर विजय प्राप्त करने के लिए एसोसिएशन को अनेक अनेक धन्यवाद ! इस सफलता से मुझे बहुत आत्मसंतोष प्राप्त हुआ है। नए वर्ष की इससे बेहतर शुरूआत नहीं हो सकती थी। मुझे पूरा विश्वास है कि हमारा एसोसिएशन अपने सक्रिय और बुद्धिमान संचालकों के प्रयास से अन्य सभी लंबित मामलों में भी सफलताएं प्राप्त करेगा। एक बार फिर से बहुत धन्यवाद !

    नीरज कुमार
    वरिष्ठ अनुवादक
    विदेश मंत्रालय

    ReplyDelete

अपनी पहचान सार्वजनिक कर की गई आलोचना का स्वागत है। किंतु, स्वयं छद्म रहकर दूसरों की ज़िम्मेदारी तय करने वालों की और विषयेतर टिप्पणियां स्वीकार नहीं की जाएंगी।