*BREAKING:*वरिष्ठ अनुवादकों की सहायक निदेशक के तौर पर नियमित पदोन्नति के लिए विभागीय समिति की बैठक 5 अक्टूबर,2018 को संपन्न। * अप्रैल 2017 से दिसम्बर 2018 तक की रिक्तियों के लिए वरिष्ठ अनुवादकों की पदोन्नति हेतु विभागीय समिति की बैठक कराने के प्रयास जारी *उप-निदेशक(राजभाषा) के तौर पर पदोन्नति हेतु संयुक्त सेवावधि के प्रावधान को बहाल करने के लिए भर्ती नियमों में आशोधन का प्रस्ताव डीओपीटी में अग्रिम चरण में। *राजभाषा विभाग ने सहायक निदेशकों को रिवर्ट किए जाने का आदेश वापस लेने का फैसला लिया।

Tuesday, 28 January 2014

वरिष्ठ अनुवादकों की पदोन्नति को सचिव की स्वीकृति, भर्ती नियम पर यूपीएससी की सहमति

वरिष्ठ अनुवादकों की पदोन्नति के संबंध में 26 नवम्बर,2013 को दी गई सूचना के क्रम में,सभी साथियों को सूचित किया जाता है कि संबंधित फाइल का सचिव द्वारा अनुमोदन कर दिया गया है और विभागीय पदोन्नति समिति(डीपीसी) की बैठक शीघ्र ही आयोजित की जाएगी। समिति की बैठक में पेश किए जाने वाले अपेक्षित काग़ज़ात,यथा- वार्षिक कार्य निष्पादन मूल्यांकन रिपोर्ट(एपीएआर) तथा सतर्कता निकासी(विजिलेंस क्लीयरेंस) आदि के लिए 6 फरवरी तक का समय तय किया गया है।

इस पदोन्नति(61 पद) के लिए Consideration Zone में आने वाले सभी सदस्य साथियों को सलाह दी जाती है कि वे राजभाषा विभाग की साइट पर नज़र रखें और साथ ही अपने एपीएआर और विजिलेंस क्लीयरेंस शीघ्र राजभाषा विभाग को उपलब्ध कराने के लिए अपने प्रशासन अनुभाग से सम्पर्क करें।

उधर,यूपीएससी ने भर्ती नियमों पर सहमति व्यक्त कर दी है। अब इस फाइल को स्वीकृति के लिए विधि मंत्रालय भेजा जा रहा है।

अद्यतनः आज दिनांक 29 जनवरी,2014 को राजभाषा विभाग ने संबंधित ज्ञापन जारी कर दिया है। सभी संबंधित वरिष्ठ अनुवादकों से आग्रह है कि वे लंबित काग़ज़ात राजभाषा विभाग को जल्दी उपलब्ध कराएं तथा यदि ज्ञापन में कोई ऐसा दस्तावेज मांगा गया हो जिसे आप पहले ही विभाग को उपलब्ध करा चुके हों,तो उसे राजभाषा विभाग के संज्ञान में लाएँ।

ज्ञापन को नीचे की लिंक पर देखा जा सकता हैः

1 comment:

  1. इस शुभ समाचार के बारे में सूचित करने के लिए हार्दिक धन्यवाद। आपने यह सूचना तुरंत ही ब्लॉग पर डाल दी, इससे पता चलता है कि आप संवर्ग के हितों के लिए और इसकी सूचना सभी साथियों को देने के लिए कितने सचेष्ट हैं।

    भर्ती नियमों को कब तक अधिसूचित कर दिए जाने की संभावना है और कनिष्ठ से वरिष्ठ अनुवादक के पदों पर पदोन्नति और तदर्थ सहायक निदेशकों को नियमित करने के मामले की क्या स्थिति है? क्या अनुवादकों की आम बैठक आयोजित करने की कोई योजना है।

    ReplyDelete

अपनी पहचान सार्वजनिक कर की गई आलोचना का स्वागत है। किंतु, स्वयं छद्म रहकर दूसरों की ज़िम्मेदारी तय करने वालों की और विषयेतर टिप्पणियां स्वीकार नहीं की जाएंगी।